आज पश्चिम बंगाल के (पुरुलिया) में गरजेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

आज पश्चिम बंगाल के (पुरुलिया) में गरजेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

9
0
SHARE

ममता बनर्जी को चुनौती देने आज बंगाल जाएंगे योगी आदित्यनाथ। बंगाल सरकार हेलीकॉप्टर की लैंडिंग में बाधक न बने इसके लिए इस बार योगी का हेलीकॉप्टर झारखंड और बंगाल की सीमा स्थित बोकारो के नगेन मोड़ पर लैंड करेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को ममता बनर्जी को चुनौती देने पश्चिम बंगाल (पुरुलिया) जाएंगे। वहां दोपहर 3.25 पर वह जनसभा को संबोधित करेंगे। योगी को तीन फरवरी को भी पश्चिम बंगाल में दो जगहों पर जनसभा करनी थी, पर वहां के प्रशासन ने उनके हेलीकॉप्टर को लैंडिंग की अनुमति नहीं दी। तब भाजपा के लोगों ने कहा था कि ममता दीदी योगी से डर गयीं। बाद में योगी ने मोबाइल से दोनों सभाओं को संबोधित किया।

बंगाल सरकार हेलीकॉप्टर की लैंडिंग में बाधक न बने इसके लिए इस बार योगी का हेलीकॉप्टर झारखंड और बंगाल की सीमा स्थित बोकारो के नगेन मोड़ पर लैंड करेगा। वहां से वह सड़क मार्ग से जनसभा स्थल तक जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि झारखंड में भी भाजपा की सरकार है। वहां तक पहुंचने के बाद अगर बंगाल सरकार ने उनको सभा करने की इजाजत नहीं दी तो भी योगी सुर्खियां बनेंगे।

तीन फरवरी को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पश्चिम बंगाल के बालुरघाट में एक रैली थी। लेकिन, ममता सरकार ने योगी को इसमें शामिल होने की इजाजत नहीं दी। यहां तक कि उनका हेलीकॉप्टर तक बंगाल में लैंड होने नहीं दिया गया।

पश्चिम बंगाल सरकार ने बिना कोई नोटिस दिए रैली की इजाजत खारिज कर दी थी। इसे लेकर तनातनी की स्थिति पैदा हो गई थी। इस बीच योगी आदित्यनाथ ने रैली को फोन से संबोधित किया।

गौरतलब है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की भी मालदा में रैली से पहले इजाजत को लेकर विवाद हो गया था। सीएम के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने योगी की रैली को लेकर ममता सरकार को निशाने पर लिया है।

उन्होंने कहा, ‘यह यूपी सीएम की लोकप्रियता का असर है कि ममता बनर्जी ने हेलिकॉप्टर लैंड कराने की इजाजत ही नहीं दी।’ पश्चिम बंगाल के बीजेपी नेता मुकुल रॉय ने भी इस पर नाराजगी जताई है।

उन्होंने कहा, ‘वहां एक रेग्युलर एयरपोर्ट है। वहां हेलिकॉप्टर को लैंड करने की इजाजत देने में क्या परेशानी है? पश्चिम बंगाल सरकार का यह गैरलोकतांत्रिक कदम है।’