चली थी प्रचार करने मिल गया प्रियंका गांधी को नोटिस, जानिए क्या...

चली थी प्रचार करने मिल गया प्रियंका गांधी को नोटिस, जानिए क्या है मामला?

7
0
SHARE

बच्चों के जरिए चुनाव प्रचार करने पर बढ़ी प्रियंका की मुश्किलें, बाल संरक्षण आयोग ने भेजा नोटिस

इससे चुनाव प्रचार में जुटी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

एक चुनावी रैली के दौरान प्रियंका गांधी द्वारा बच्चों से नारे लगवाने के मामले को बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने गंभीरता से लिया है। मामले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (National Commission for Protection of Child Rights) ने प्रियंका गांधी वाड्रा को नोटिस जारी किया है। इससे चुनाव प्रचार में जुटी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

आयोग का कहना है कि जो वीडियो सामने आया है उसमें प्रियंका गांधी वाड्रा की मौजूदगी में बच्चे अपमानजनक टिप्पणी और अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करते हुए नारे लगा रहे हैं।

आयोग ने शिकायत के बारे में और बाल अधिकारों के किसी भी उल्लंघन में जांच के उद्देश्य से चुनाव आयोग को इस बारे में जानकारी दी है, आयोग ने बच्चों के नाम और पता, वे कहां नारे लगा रहे थे, बच्चों को वहां कैसे लाया गया इस बारे में 3 दिन के भीतर जानकारी मांगी है।

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का एक वीडियो बुधवार को वायरल हुआ था। वीडियो प्रियंका के अमेठी के तिलोई गांव में चुनाव प्रचार का है, जहां प्रियंका गांधी जनसंपर्क कर रही थीं। वीडियो में कुछ बच्चे प्रियंका के सामने मोदी विरोधी नारे लगा रहे थे। एक व्यक्ति ने पहले बच्चों से ‘चौकीदार चोर है’ का नारा लगवाया। इस पर प्रियंका मुस्कुराती रहीं।

दूसरी बार बच्चों ने नारे में मोदी के लिए अपशब्द का इस्तेमाल किया। इस पर प्रियंका ने बच्चों से कहा- ‘ये वाला नारा अच्छा नहीं लगा। अच्छे बच्चे बनो।’ इसके बाद बच्चों ने ‘राहुल गांधी’ जिंदाबाद के नारे लगाए। वीडियो वायरल होने के बाद से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी प्रियंका और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।

मालूम हो कि कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को पूर्वांचल की जिम्मेदारी दी है। वे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए अमेठी में भी प्रचार कर रही हैं।