कांग्रेस को चुनावी पटरी पर वापस लाने के लिए गुजरात में गरजे...

कांग्रेस को चुनावी पटरी पर वापस लाने के लिए गुजरात में गरजे कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी।

17
0
SHARE

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के वलसाड में जनआक्रोश रैली में नोटबंदी व राफेल पर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विधानसभा चुनाव के दौरान जिन मुद्दों पर केंद्र को घेरने का प्रयास किया था कमोबेश उन्हीं बातों को लेकर वीरवार को फिर से प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला।

नोटबंदी, जीएसटी, जमीन अधिग्रहण, जल-जंगल व जमीन पर उन्होंने सभा में तालियां तो खूब बटोरी पर यह समर्थन वोट में कितना तब्दील होगा कहना मुश्किल है। संबोधन से पहले राहुल को माला पहनाने आई एक पारसी महिला कश्मीरा मुंशी ने चूम लिया।

राहुल गांधी ने दक्षिण गुजरात से लोकसभा के चुनाव प्रचार का श्रीगणेश किया, उनकी दादी पूर्व पीएम इंदिरा गांधी, उनके पिता पूर्व पीएम राजीव, तथा उनकी माता व कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी कभी वलसाड से ही चुनाव प्रचार की शुरुआत की थी।

कांग्रेस की जनआक्रोश रैली में राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राफेल विमान सौदे में बिचौलिए की भूमिका का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने अपने दोस्त उद्योगपति अनिल अंबानी के खाते में 30 हजार करोड़ रुपये डाल दिए। राहुल ने यहां फिर चौकीदार चोर का नारा लगाया।

राहुल ने कहा फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति व जनता कह रही है चौकीदार चोर है, देश की जनता कह रही है चौकीदार चोर है। राहुल ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को भी नहीं बख्शा और कहा कि जेटली देश के छोटे उद्यमी व दुकानदारों को चोर समझते हैं।

राहुल ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आई तो गरीब व किसानों के खातों में सीधे पैसा जमा कराएगी। राहुल ने कहा कि यूपीए सरकार ने देश को रोजगार गारंटी के रूप में मनरेगा दिया, भोजन की गारंटी दी, आदिवासियों को जमीन का अधिकार दिया।

अब कांग्रेस बड़ा काम करने जा रही है, सत्ता में आने पर हर गरीब व किसान के खाते में न्यूनतम आय की गारंटी के बतौर सीधे पैसा जमा कराएगी।

राहुल ने कहा मोदी जी ने एक दिन अचानक हजार, पांच सौ के नोट बंद कर दिए, गरीब व मध्यम वर्ग के लोगों को बैंकों की कतार में खडा कर दिया लेकिन एक भी अमीर लाइन में नहीं दिखा। जीएसटी पर राहुल ने कहा कि कांग्रेस सरल व एकल जीएसटी के पक्ष में है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने आदिवासी बहुल वलसाड धरमपुर के लालडूंगरी में जब राहुल पहुंचे तो महिला कांग्रेस ने उनका माला पहना कर स्वागत किया। इसी दौरान एक वरिष्ठ कार्यकर्ता कश्मीरा मुंशी ने राहुल को चूम लिया।

कश्मीराने कहा कि उनका परिवार चार पीढ़ी से कांग्रेस में है तथा महिलाओं के उत्थान के लिए कांग्रेस ने देश में खूब काम किया है। राहुल ने यहां कहा कि आदिवासियों को कुचल कर विकास नहीं किया जा सकता, उनकी आवाज नहीं दबाई जा सकती।

किसान व आदिवासियों की जमीनें उनकी मर्जी के बिना नहीं ली जानी चाहिए। राहुल ने कहा कि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ व राजस्थान के मुख्यमंत्री कहते थे किसानों का कर्ज माफ नहीं हो सकता लेकिन कांग्रेस ने सत्ता में आते ही कर दिखाया।

राहुल बोले आसमान गिरे या आंधी-तूफान आए लेकिन अपना वादा पूरा करना ही होगा। राहुल बोले कि लोकतंत्र में जनता मालिक है सरकार को उनकी मर्जी के मुताबिक ही काम करना होता है लेकिन मोदी जी केवल अपने ही मन की बातें करते हैं।

राहुल ने कहा प्रधानमंत्री ने लोकसभा में भाषण दिया लेकिन एक बार भी आंख नहीं मिला सके। किसान को साढ़े तीन रुपये एक दिन का देने पर मोदी जी व उनके सांसदों ने खूब मेजें थपथपाई, जबकि देश के 15 उद्योगपतियों के हजारों करोड़ माफ कर दिए।

राहुल ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह व बेटे जय शाह को भी नहीं बख्शा, राहुल ने कहा नोटबंदी के दौरान जय ने करोडों का कालाधन सफेद कर लिया। अमित शाह की संचालित सहकारी बैंक में सात सौ करोड़ रुपये जमा हुए।

राहुल ने भाजपा पर देश में पुलिस राज थोपने का आरोप लगाते हुए कहा कि जेटली तो देश के मध्यम व लघु उद्यमियों को चोर समझते हैं।