प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने विपक्ष को जमकर घेरा, जानिए क्या रही...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने विपक्ष को जमकर घेरा, जानिए क्या रही वजह?

24
0
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरदासपुर रैली में कर्जमाफी अौर सिख विरोधी दंगों के लिए कांग्रेस को घेरा। उन्‍होंने पाकिस्‍तान प्रेम के लिए नवजाेत सिंह सिद्धू पर भी निशाना साधा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नए भारत की शुरुआत का एक और वर्ष पंजाब की धरती से शुरू कर रहा हूं। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरूआत पंजाबी से शुरू की। उन्‍होंने 2022 तक नए भारत के निर्माण का संकल्‍प जताया।

उन्‍होंने यहां भाजपा-अकाली दल की धन्‍यवाद रैली में पंजाब को वीरों और महान लोगों की धरती बताया। प्रधानमंत्री ने बिना नाम लिए पाकिस्‍तान प्रेम केे लिए नवजोत सिद्धू पर निशाना साधा। इसके साथ ही प्रधानमंत्री किसान कर्ज माफी को लेकर एक बार फिर पंजाब की कांग्रेस सरकार पर हमला किया।

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरदासपुर में रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा – जिनका इतिहास हजारों सिख भाई-बहनों को बेरहमी से हत्या का हो और जो आज भी दंगों के आरोपियों को मुख्यमंत्री पद का पुरस्कार दे रहे हैं, उन लोगों से पंजाब समेट देशवासियों को सतर्क रहने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री करतारपुर कॉरिडोर की चर्चा करते हुए सिद्धू पर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि श्री करतापुर कॉरिडाेर के निर्माण के लिए हमने कदम उठाया। पाकिस्‍तान वाले हिस्‍से में कॉरिडोर का काम शुरू होने के मौके पर हमने वहां अपने दो मंत्रियों का वहां भेजा। लेकिन कांग्रेस के नेताओं ने अपने राजनीतिक लाभ के लिए पाकिस्‍तान को मौका दे दिया।

इन लोगों ने अपने मुख्‍यमंत्री की भी नहीं सुनी। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन का इतिहास राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ वाला हूं जो लोग देश को कमजोर करने के लिए झूठ फैला रहे हैं और एक परिवार के गुणगान कर रहे हैं उनसे क्‍या उम्‍मीद की जा सकती है।

उन्होंने कहा कि पूरे देश की मांग थी कि 1984 के दंगों के लिए आरोपियों को सजा मिले। एक परिवार के इशारे पर दंगे के जिन जिन आरोपियों को ‘सज्जन’ बताकर बचाकर के लिए फाइलें दबा दी गई थी उन फाइलों को एनडीए सरकार ने निकाला। हमने एसआइटी का गठन किया और परिणाम लोगों के सामने है।

गुरु नानकदेव के 550 वें प्रकाश्‍ाोत्‍सव का उल्‍लेख करते हुए कहा कि इसको बड़े स्तर पर मनाने का हमारी सरकार ने फैसला किया है। सभी राज्यों में और विश्व भर में समारोह का आयोजन किया जाएगा।

उन्‍होंने श्री करतारपुर गुरुद्वारा की चर्चा करते हुए कहा कि सात दशक पहले हमारी आस्था के प्रतीक को तब की सरकार नहीं ले सकी और करोड़ों लोग सिर्फ दूरबीन से ही उसे देखने के लिए मजबूर हैं।

उन्होंने कहा कि डेरा बाबा नानक से लेकर इंटरनेशनल बॉर्डर तक मार्ग बनाया जाएगा जिसमें सभी सुविधाएं मौजूद होंगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन का इतिहास राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ वाला हूं जो लोग देश को कमजोर करने के लिए झूठ फैला रहे हैं जो लोग एक परिवार के गुणगान कर रहे हैं जो लोग दंगे के आरोपियों को मुख्यमंत्री के पद से नवाज रहे हो उनसे सचेत रहना होगा।

उन्होंने कहा कि पूरे देश की मांग थी कि 1984 के दंगों के लिए आरोपियों को सजा मिले। उन्होंने कहां कि जिन जिन आरोपियों को सज्जन बचाकर फाइलें दबा दी गई थी उनकी फाइलें एसआइटी बनाकर निकाली है और परिणाम लोगों के सामने हैं।

उन्‍होंने लोगों को नए साल की शुभकामनाएं दीं। प्रधानमंत्री ने रैली में फिल्‍म अभिनेता विनोद खन्‍ना की खास तौर चर्चा की। उन्‍होंने कहा कि विनोद खन्‍ना ने गुरदासपुर को विकसित करने का सपना देखा था और हम उसे साकार करने में जुटे हैं। प्रधानमंत्री इस रैली से आगामी लोकसभा चुनाव का बिगुल बजा दिया।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर झूठ किसानों के बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सालों से स्वामीनाथन की रिपोर्ट को लागू नहीं किया गया, लेकिन हमारी सरकार ने इसे लागू किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि जो दशकों तक एमएसपी का वादा डालते रहे थे आज भी किसानों की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश में जुटे हैं।

उन्होंने कहा कि 2009 में किसानों को कर्ज माफी का ऐलान किया था लोगों ने इसी कारण उनको वोट दे दिए लेकिन किसान का कोई फायदा नहीं हुआ। भरोसे की सजा आज भी किसान भुगत रहे हैं।

उन्होंने कहा कि 2009 में जब किसानों को कर्ज माफी का वादा किया तो उन पर छह लाख करोड़ का कर्ज था लेकिन सिर्फ 60000 करोड की कर्ज माफी हुई।

किसानों के साथ इतना बड़ा धोखा किया गया। उन्होंने कहा कि पंजाब में भी कर्ज माफी के नाम पर कांग्रेस वोट वसूल कर ले गई और कहा था कि किसानों का सारा कर्ज माफ किया जाएगा।

उन्होंने पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ पर भी हमला किया। मोदी ने कहा कि लोगों को गुमराह करने के लिए कांग्रेस के लोग बड़े-बड़े कागज लेकर संसद तक पहुंच गए हैं। हकीकत है कि पंजाब में अभी सिर्फ 3400 करोड़ रुपयेे का कर्ज ही माफ हुआ है।

ऐसे लाेगों के कर्ज माफ किए गए जो इसके हकदार भी नहीं थे। प्रधानमंत्री ने पूछा कि क्या कर्ज माफी की योजना कांग्रेस के लिए पंचवर्षीय योजना है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने पहले दशकों तक गरीबी हटाओ के नाम पर ठगा और अब कर्ज माफी के नाम पर ठग रही है।

उन्होंने कहा कि देश के हर गांव को सड़क से जोड़ने का काम अटल बिहारी वाजपेयी जी के शासनकाल में शुरू हुआ था। गुरदासपुर समेत पंजाब के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाएं मंजूर की गई हैं और कई तो पूरी भी हो चुकी हैं।

प्रधानमंत्री ने शाहपुर कंडी योजना के पुराना होने का मुद्दा भी उठाया और कहां कि जो पानी पंजाब और जम्मू कश्मीर से हक कथा वह पाकिस्तान जा रहा था और पंजाब के किसान बूंद-बूंद के लिए तरस रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि एनडीए सरकार की नीति रही है कि भारत का पानी भारत की ही जमीन को सींचेगा।

उन्होंने कहा कि इसी तरह राजस्थान फीडर और इंदिरा कनाल का री लाइनिंग का प्रोजेक्ट भी एनडीए सरकार ने लिया है। उन्होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से पचासी हजार एकड़ जमीन को वॉटर लॉगिंग से मुक्ति मिलेगी।

उन्होंने कहा कि किसानों की फसल बर्बाद ना हो इसके लिए फाजिल्का और कपूरथला में फूड प्रोसेसिंग के कारखाने लगाए जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि ऐसे प्रयासों के तहत किसानों की आय दोगुनी होगी और वे किसानी संकट से बाहर निकल पाएंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र की इसी तरह की योजनाएं पंजाब में ढीली पड़ गई है इसके लिए पंजाब सरकार को जागना पड़ेगा ताकि लोगों को सुविधा मिल सके।

उन्होंने कहा कि जीएसटी को लेकर जिस तरह के सुझाव मिलते जा रहे हैं उसको और सरल किया जा रहा है लंगर पर जीएसटी हटाने का मामला इन्हीं सुझाव के तहत किया गया है।

प्रधानमंत्री ने टैक्सों को लेकर पारदर्शिता की बात की और कहा कि जीएसटी की दरों को संतोषजनक स्तर पर लाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जीएसटी काउंसिल से अनुरोध कर रहे हैं कि जीएसटी फाइल करने के लिए 20 लाख की सीमा को बढ़ाकर कर 75 लाख कर दिया जाए।

उन्होंने बताया कि कल कैबिनेट ने कई ऐसे फैसले लिए हैं जिसका लाभ छोटे कारोबारियों को मिलेगा। पंजाब का एमएसएमई सेक्टर इतना विशाल है उसका सबसे ज्यादा लाभ पंजाब को ही मिलना है और छोटे एक्सपोर्टर को को इसका लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस महीने गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती भी आने वाली है और उन्होंने जो रास्ता दिखाया है हम उसी पर चलने के लिए प्रतिबद्ध है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जालंधर में विज्ञान कांग्रेस में शामिल होने के बाद आदमपुर एयरपोर्ट से पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर पहुंचे। उनका विमान पठानकोट एयरफाेर्स स्‍टेशन पर उतर और वहां से पीएम मोदी हेलीकॉप्टर से गुरदासपुर पहुंचे।

रैली मेें पहुचंने पर प्रधानमंत्री का भव्‍य स्‍वागत किया गया। इस रैली का आयोजन श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर को खोलने के निर्णय पर पीएम मोदी का धन्‍यवाद देने के लिए किया गया है।

शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा पंजाब के हित में उठाए गए कदमोंं की चर्चा करते हुए उनका धन्‍यवाद किया। सुखबीर बादल ने कहा, पीएम मोदी ने पंजाब के लिए अतुलनीय काम किए।

उन्‍होंने कहा कि पंजाब को तीन प्रधानमंत्रियों अटल बिहारी वाजपेयी, इंद्र कुमार गुजराल औेर नरेंद्र मोदी ने आगे बढ़ाने में खास योगदान दिया।

सुखबीर बादल ने कहा कि 2019 की जंग की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंजाब से कर रहे हैं। उन्‍होंने श्री करतापुर साहिब कॉरिडोर के निर्माण के लिए प्रधानमंत्री का धन्‍यवाद किया। उन्‍होंने कहा कि पंजाब और सिखों की भलाई के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनेक कदम उठाए हैं। उन्‍होंने कहा कि 1984 के दंगे के दोषियों काे सजा दिलाने में भी मोदी सरकार ने अहम भूमिका निभाई।

सुखबीर बादल ने कहा, मोदी उस गांधी परिवार के खिलाफ जंग लड़ने लगे हो जो सिखों की दुश्मन जमात रही है। उन्होंने कहा कि देश में केवल तीन प्रधानमंत्री ही ऐसे रहे हैं जिन्होंने पंजाबियों के दुख को समझा है।

इनमें सबसे पहले अटल बिहारी वाजपेयी हैं जिन्होंने 1984 के केसों को फिर से खुलवाने के लिए काम किया। उसके बाद इंद्र कुमार गुजराल ऐसे प्रधानमंत्री रहे हैं जिन्होंने पंजाब पर आतंकवाद के समय चढ़े 8500 करोड़ के कर्ज को माफ किया। तीसरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं जिन्होंने पंजाब की समस्याओं को समझा और उसे हल करने के लिए काम किया।

सुखबीर बादल ने करतारपुर कॉरिडोर खोलने के संबंध में कहा कि यह परमात्मा की नरेंद्र मोदी पर बक्शीश है कि उन्होंने ऐसा काम उनसे करवा दिया। इससे करोड़ों नानक नाम लेवा लोगों को फायदा हुआ है।

सुखबीर बादल ने दावा किया की करतारपुर कॉरिडोर को खोलने की मांग अकाली दल ने प्रधानमंत्री से की थी जिसे उन्होंने मंजूर किया। सुखबीर बादल ने गुरु नानक साहब के 550 में प्रकाशोत्सव के उपलक्ष में सुल्तानपुर लोधी को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए भी प्रधानमंत्री का धन्यवाद किया।

बादल ने कहा कि दरबार साहब के लंगर पर लगाए गए जीएसटी का मुद्दा भी अकाली दल ने आपके पास उठाया था जिसे आपने पूरा कर दिया।

सुखबीर बादल ने 1984 के केसों का मुद्दा उठाया और कहा कि तत्‍कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने नानावती कमीशन का गठन करके केसों को खुलवाया और आज उसी की वजह से सज्जन कुमार जैसे लोग सलाखों के पीछे हैं।

बादल ने कहा, सज्जन कुमार जैसे लोग इस कारण बचते रहे क्योंकि इन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त था। ऐसा मैं नहीं बल्कि इन केसों की सुनवाई कर रहे जज ने कहा है। उन्होंने मांग की कि इन केसों में राजीव गांधी का नाम भी आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि गांधी परिवार के नाम पर बने बनाएं स्कूलों से इनके नाम हटाए जाएं। सुखबीर बादल ने पंजाब में पिछले चार सालों में बिछाए गए सड़कों के जाल के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी का धन्यवाद किया। उन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह को चुनौती दी थी एक भी ऐसी चीज गिनवा दें जो कांग्रेस के समय पंजाब को मिली हो।

उन्‍होंने कहा कि फूड प्रोसेसिंग का महकमा जो एनडीए सरकार में अकाली दल के पास है की मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने दो हजार करोड़ के 35 एग्रो प्रोजेक्ट पंजाब में लगवा दी है। इसके तहत यहां रोजगार के मौके उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।

सुखबीर बादल ने कहा कि केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर अपने टेक्स कम कर दिए लेकिन पंजाब सरकार ने ऐसा नहीं किया। अकाली दल के प्रधान ने कहा कि स्वामीनाथन कमिशन की रिपोर्ट को लागू करके इस साल ही धान की फसल पर किसानों को 200 रुपये प्रति क्विंटल अधिक मिले हैं।

रैली में पंजाब भाजपा के प्रधान श्‍वेत मलिक ने प्रधानमंत्री का स्‍वागत करते हुए उन्‍हें युग पुरुष करार दिया। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब को काफी तोहफे दिए हैं और यहां की समस्‍याओं का समाधान किया। करतारपुर साहिब कॉरिडोर बनाने का निर्णय लेकर पंजाब के लोगोंं को सबसे बड़ा तोहफा दिया।

श्वेत मलिक ने कहा केंद्र अंदर मोदी वह शख्स हैं जिससे हमें शक्ति मिलती है। करतारपुर कॉरिडोर को खोल कर प्रधानमंत्री नहीं खासतौर पर पंजाबियों को एक बड़ा तोहफा दिया है।

उन्होंने 1984 के दंगों के केसों को फिर से खुलवा कर दोषियों को सलाखों के पीछे भेजने की भी प्रशंसा की और कहा कि कांग्रेस ने बांटो और राज करो वाली नीति अपनाई है।

उन्‍होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार पर भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए। श्वेत मलिक ने कहा कि सफेद झूठ बोलकर कैप्टन अमरिंदर सिंह सत्ता में आए हैं और अब लोग उनकी सरकार को लाकर पछता रहे हैं।

रैली शुरू होने से पहले पंजाबी गायकों का कार्यक्रम भी हुआ। रैली के मंच पर शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल, केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल, प्रदेश भाजपा प्रधान श्‍वेत मलिक सहित अकाली दल व भाजपा के प्रदेश के बड़े नेता मौजूद हैं।

स्‍वास्‍थ्‍य खराब होने के कारण पूर्व मुख्‍यमंत्री प्रकाश सिंह बादल नहीं आए। भाजपा की ओर से लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री की देश भर में सौ रैलियों की योजना बनाई गई है। इसी के तहत गुरदासपुर में धन्यवाद रैली का आयोजन किया गया।