बड़ी खबर : सूरत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उठाया नोटबंदी के...

बड़ी खबर : सूरत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उठाया नोटबंदी के सच पर से पर्दा।

10
0
SHARE

सूरत में बोले प्रधानमंत्री मोदीः नोटबंदी नहीं की होती तो लोगों को सस्ता घर कैसे मिलता ?

आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 71वीं पुण्यतिथि है। मोदी सरकार ने इस मौके पर बड़े आयोजन की तैयारी की है। खुद पीएम मोदी आज गुजरात के नवसारी जिले में मौजूद दांडी जा रहे हैं जहां गांधी जी ने नमक सत्याग्रह किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो हफ्तों में दूसरी बार गुजरात दौरे पर हैं। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी पर सवाल उठाने वालों को जवाब दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कुछ लोग सवाल पूछते हैं कि नोटबंदी से क्या फायदा हुआ? उन्हें ये सवाल उन युवाओं से भी पूछना चाहिए जिन्हें नोटबंदी के बाद कम हुई घरों की कीमतों का लाभ मिलना शुरू हुआ है। उस गरीब और मध्यम वर्ग से ये सवाल पूछना चाहिए, जिसका घर का सपना अब साकार होना संभव हुआ है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को सूरत एयरपोर्ट के एक्टेंशन टर्मिनल की भी नींव रखीं। यहां उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया।

इसके बाद पीएम मोदी अब महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर गुजरात में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह मैमोरियल का उद्घाटन करने जाएंगे।

बता दें कि आजादी के आंदोलन में महात्मा गांधी के नमक सत्याग्रह मार्च को दांडी मार्च के नाम से भी जाना जाता है। अंग्रेजों के खिलाफ छेड़े गए सविनय अवज्ञा आंदोलन के तहत गांधी जी के नेतृत्व में 80 सत्याग्रहियों ने साबरमती आश्रम से अहमदाबाद स्थित तटीय गांव दांडी की 241 मील की यात्रा और वहां समुद्र के पानी से नमक बनाकर अंग्रेजों के बनाए नमक कानून को चुनौती दी थी।

मोदी ने की पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाने की अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमारी सरकार ने रेरा कानून बनाकर अब ये भी सुनिश्चित किया है कि गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों की कमाई हाउसिंग प्रोजेक्ट्स में फंसे नहीं। रेरा कानून के तहत 30-35 हजार बिल्डरों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है और तय नियम के मुताबिक लाखों घरों का निर्माण कर रहे हैं।’

मोदी ने कहा कि ये आपके एक वोट की ताक़त है कि जो गरीब को आज घर मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछले चार साढ़े-चार साल से हम इसलिए आगे बढ़ पा रहे हैं क्योंकि पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाई। पूर्ण बहुमत की सरकार बड़े और कड़े फैसले ले सकती है।