भारतीय पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने पुलवामा शहीदों को अपनी ओर...

भारतीय पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने पुलवामा शहीदों को अपनी ओर से दी श्रद्धांजलि।

22
0
SHARE

सहवाग ने कहा है कि शहीद हुए जवानों के बच्चे उनके स्कूल में मुफ्त शिक्षा हासिल कर सकते हैं और अगर ऐसा होता है तो ये मेरा सौभाग्य होगा।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग पुलवामा में हुए आतंकी हमलों में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के बच्चों की मदद के लिए आगे आए हैं।

सहवाग ने एलान किया है कि वो जवानों के बच्चों की शिक्षा का पूरा खर्च उठाऐेंगे। आपको बता दें कि गुरुवार को पुलवामा में हुए एक आंतकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना की भारतीय क्रिकेटरों ने भी कड़ी निंदा की थी।

सहवाग ने ट्वीट करते हुए लिखा कि हम उनके लिए जितना भी करें वो कम ही होगा। मैं उस घटना में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के बच्चों को अपने सहवाग इंटरनेशल स्कूल में मुफ्त शिक्षा की पेशकश करता हूं।

उन्होंने लिखा कि अगर ऐसा होता है तो ये मेरा सौभाग्य होगा। सहवाग का ये कदम बेहद काबिलेतारीफ है और इसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वो कम है। इससे पहले सहवाग ने इस घटना की कड़ी निंदा की थी और शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी।

Nothing we can do will be enough, but the least I can do is offer to take complete care of the education of the children of our brave CRPF jawans martyred in #Pulwama in my Sehwag International School @SehwagSchool , Jhajjar. Saubhagya hoga 🙏 pic.twitter.com/lpRcJSmwUh

Virender Sehwag

@virendersehwag
Nothing we can do will be enough, but the least I can do is offer to take complete care of the education of the children of our brave CRPF jawans martyred in #Pulwama in my Sehwag International School @SehwagSchool , Jhajjar. Saubhagya hoga 🙏

सहवाग के अलावा खेल से जुड़े अन्य लोगों ने भी शहीद के परिवारों को मदद देने का एलान किया है। इसमें भारतीय बॉस्कर विजेंदर भी हैं जिन्होंने अपने एक महीने के वेतन को शहीद के परिवारों को देने की घोषणा की है। क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी कुछ वक्त पहले शहीद हुए जवान के परिवारों के बच्चों की शिक्षा का जिम्मा लेने की घोषणा की थी।

सहवाग के अलावा भारतीय क्रिकेटरों में विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, वीवीएस लक्ष्मण ने भी शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि दी थी। भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने भी अपनी संवेदान जवानों के परिवारों के प्रति प्रकट किया था और इसके एक बेहद खराब घटना करार दिया था।