रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने विपक्ष पर साधा निशाना।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने विपक्ष पर साधा निशाना।

31
0
SHARE

लोकसभा में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि किसी खास खानदान से होने की वजह से कोई पीएम को चोर नहीं कह सकता, मुझे झूठा नहीं कह सकता।

लोकसभा में राफेल मुद्दे पर बहस करते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि किसी खास खानदान से होने की वजह से कोई पीएम को चोर नहीं कह सकता, मुझे झूठा नहीं कह सकता। मुझे झूठी कहा गया।

बोला गया कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण में झूठ बोल रही हैं। पीएम को इस सदन में चोर बोला गया, अब सदन में नाम लेने से कुछ लोगों को दिक्कत हो रही है।

पीएम मोदी साधारण परिवार से आते हैं। वो अपनी कड़ी मेहनत के बल पर आज यहां पहुंचे हैं। मेरा खुद का सम्मान है, पीएम का भी खुद का सम्मान है। हम सभी साधारण परिवार से आते हैं। क्या आपने कभी पीएम मोदी को आंख मारने के बाद उनसे माफी मांगी। इस तरीके से सदन नहीं चलनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि बोफोर्स ने कांग्रेस को डुबाया था, राफेल मोदी को दोबारा सत्‍ता दिलाएगी।

राफेल मुद्दे को लेकर रक्षा मंत्री ने कहा कि ऑफसेट के लिए 2013 की यूपीए की पॉलिसी का ही पालन किया गया, हमने इसमें कोई बदलाव नहीं किया। ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट में किसी भी भारतीय निजी या सरकारी कंपनी का पहले से जिक्र नहीं।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि हमने कोर्ट को गुमराह नहीं किया है। उन्होंने कहा कि कोर्ट ने भी दाम न बताने पर टिप्पणी की है। कोर्ट का फैसला पूरी प्रक्रिया देखकर ही आया है। देशहित पर कीमत बताना ठीक नहीं है, क्योंकि यह बहुत संवेदनशील मामला है।

बैंक गारंटी के सवाल पर रक्षा मंत्री ने कहा कि किसी भी देश के साथ हुए रक्षा करार में गांरटी नहीं ली गई थी। वो चाहे अमेरिका के साथ हुआ है या फिर फ्रांस के साथ।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि कोर्ट ने भी राफेल डील पर सवाल नहीं उठाए। मंत्री ने कहा कि पार्टियों की ओर से कोर्ट में याचिकाएं दायर की गई थीं, ताकि वह इसका राजनीतिक फायदा ले सकें।

रक्षा मंत्री ने कहा कि 74 बैठकों के बाद राफेल सौदा किया गया था। उन्होंने कहा कि हथियारों से लैस और बगैर हथियार वाले राफेल विमान की तुलना गलत है। रक्षा मंत्री ने कहा कि गलत जानकारी के नाम पर कांग्रेस देश को गुमराह कर रही है।

सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस कीमतों की तुलना सेब और संतरों की तरह कर रही है, जबकि इनकी कोई तुलना है ही नहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताए कि उसे 526 करोड़ का आंकड़ा कहां से मिला। हमने तो 9 फीसदी कम दाम में राफेल विमान खरीदे हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस हमेशा डील के दाम बदलती रही।

उन्होंने कहा कि डील के बेसिक दाम हम सार्वजनिक कर चुके हैं, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष अलग-अलग जगह नए-नए दाम बता रहे थे। मंत्री ने कहा कि हमने कांग्रेस से कई गुना सस्ती और बेहतर डील की है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोगों ने प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री से लेकर एयर चीफ के बारे में गलत बातें कहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता पाकिस्तान में जाकर मोदी को सत्ता से हटाने की मदद मांगकर आए हैं।

हम विमान के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते। लेकिन कांग्रेस बताए वो क्यों इसकी डिटेल जानकारी मांग रहे हैं। राहुल गांधी की फ्रांस के राष्ट्रपति से जो भी बात हुई, उसकी आधिकारिक प्रति संसद के समक्ष रखी जानी चाहिए। कांग्रेस अध्यक्ष ने देश और संसद को गुमराह किया है।

रक्षामंत्री ने कहा, ‘HAL के लिए कांग्रेस घड़ियाली आंसू बहा रही है। उन्होंने कहा कि हम रक्षा सौदे तो करते हैं लेकिन रक्षा के मामलों में सौदेबाजी नहीं करते। सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस 126 नहीं सिर्फ 18 विमान खरीदने वाली थी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस परेशान है कि मिशेल भारत आ चुका है और अब वह पोल खोलने वाला है। रक्षा मंत्री ने कहा कि अगस्ता की डील HAL के साथ क्यों नहीं की गई, क्योंकि HAL कांग्रेस को सिर्फ हेलीकॉप्टर देती है, बाकी कुछ नहीं मिलता।’

रक्षी मंत्री ने कहा कि राफेल सौदे में गतिरोध बनाया गया। उन्होंने कहा कि मैं राफेल मुद्दे पर हर सवाल के जवाब देने के लिए तैयार हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताये कि इस डील को इतने दिनों तक क्यों लटकाए रखा।

सीतारमण ने कहा कि हमने 14 महीने में प्रक्रिया पूरी की। हमने डील में बहुत तेजी दिखाई। साथ ही उन्होंने तत्कालीन यूपीए सरकार पर आरोप लगाया कि उनकी नीयत ही नहीं थी राफेल खरीदने की।

सीतारमण ने कहा कि 2022 तक सभी राफेल आ जाएंगे। तय समय से 5 महीने पहले ही ये 36 राफेल भारत आ जाएंगे। लोकसभा में रक्षा मंत्री पूरे रौ में दिखीं।

उन्होंने कहा कि जो खुद राफेल नहीं ला पाए, वो पूछ रहे हैं कि विमान कब आएंगे। साथ ही सीतारमण ने कहा कि हमारे लिए राष्ट्र सुरक्षा सर्वोपरि है। रक्षामंत्री ने कहा, ‘हर AA का जवाब Q और RV है।’