राजनीतिक हलचल : नवजोत सिंह सिद्धू ने किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर...

राजनीतिक हलचल : नवजोत सिंह सिद्धू ने किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बयानी हमला।

33
0
SHARE

छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण के चुनाव के मद्देनजर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वजह से मुझसे ईर्ष्या करते हैं कि उन्हें इमरान खान ने शपथ ग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया और बिन बुलाए नवाज शरीफ के जन्मदिन पर पाकिस्तान जाना पड़ा।

छत्तीसगढ़ में पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसे नवजोत सिंह सिद्धू
रायपुर। छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण के प्रचार के लिए तीन दिवसीय प्रवास पर पहुंचे पंजाब सरकार के कैबिनेट मंद्री नवजोत सिंह सिद्दधू ने राज्य में बीजेपी विरोधी लहर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

पिछले दिनों पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होकर आलोचना झेलने वाले सिद्धू ने पीएम मोदी की पाकिस्तान यात्रा को लेकर भी उनपर निशाना साधा।

सिद्धू ने कहा कि क्या पीएम मोदी को इस बात ईर्ष्या है कि उन्हें इमरान खान के शपथ ग्रहण में नहीं बुलाया गया। क्या वे इस बात से ईर्ष्या कर रहे हैं कि वो बगैर बुलाए नवाज शरीफ के जन्मदिन पर पाकिस्तान गए।

पाकिस्तान के मुद्दे से भी आगे बढ़कर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मैं उन लोगों के सामने देशभक्ति साबित नहीं करूंगा जिनका नाम गोधराकांड में आ चुका है।

सिद्धू ने इसके अलावा कहीं जीएसटी के सहारे बीजेपी को आड़े हाथों लिया तो कहीं नोटबंदी के सहारे प्रहार किया। इसके अलावा उन्होंने भ्रष्टाचार को लेकर भी पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधा।

रायपुर में कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में मीडिया से रू-ब-रू होते हुए सिद्धू ने कहा कि देश की जनता अब बदलाव चाहती है। उन्होंने कहा कि 2014 की मोदी लहर अब कहर बन गई है।

उन्होंने पीएम मोदी के 2014 से पहले के बयानों को कोट करते हुए कहा कि उन्होंने विदेश से कालाधन लाकर गरीबों में बांटने का वादा किया था लेकिन अब यह बात गरीबों के लिए जहर बन गई है। उन्होंने पीएम मोदी के तमाम पुराने वादे लोगों को याद कराए और जमकर हमला बोला।

नोटबंदी को फेल बताते हुए सिद्धू ने कहा कि यहां किसान आदि का सारा काम कैश में चलता है। ऐसे में पीएम ने सभी को चोर बताते हुए हजार रुपये का नोट बंद कर दो हजार का चला दिया। यह कैसी नोटबंदी है?