राफेल डील का पर्दाफाश करने के लिए कांग्रेस प्रेसिडेंट ने दिया आश्वासन।

राफेल डील का पर्दाफाश करने के लिए कांग्रेस प्रेसिडेंट ने दिया आश्वासन।

28
0
SHARE

राफेल मुद्दे पर लोकससभा में बहस के बाद कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस क्रांफेंस की।

राफेल मुद्दे पर लोकससभा में बहस के बाद कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस क्रांफेंस की। उन्‍होंने कहा कि राफेल विमान का दाम बदल कर 526 से 1600 करोड़ किया गया। सवाल यह है कि यह किसने किया।

उन्‍होंने कहा कि हम राफेल की क्षमता पर सवाल नहीं उठा रहे हैं, हम सिर्फ सौदे पर सवाल उठा रहे हैं। राफेल मुद्दे पर लोकसभा में अरुण जेटली प्रधानमंत्री का बचाव किया, प्रधानमंत्री क्‍यों नहीं सामने आते हैं। रक्षा मंत्री क्‍यों नहीं सामने आती हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ये नहीं कह रहा है कि राफेल मामले में जांच नहीं होनी चाहिए या इसमें कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ। सुप्रीम कोर्ट ये कह रहा है कि ये हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं है।

राफेल में नियमों की धज्जियां उड़ाई गईं। जनता पूछ रही है कि प्रधानमंत्री जी ने 30 हजार करोड़ रुपये उद्योगपति अनिल अंबानी को क्‍यों दिए। आज पूरा देश प्रधानमंत्री से सवाल कर रहा है। उन्‍होंने प्रधानमंत्री से 20 मिनट की सीधी बहस करने की चुनौती दी। उन्‍होंने कहा कि अरुण जेटली झूठ बोल रहे हैं। अगर हम सत्‍ता में आए तो राफेल डील की जांच कराएंगे।

उन्‍होंने एक टेप जारी करते हुए कहा कि इसमें गोवा के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा है कि पर्रीकर ने कैबिनेट मीटिंग में कहा था कि राफेल की फाइल मेरे पास है। मुझे कोई कुछ नहीं कर सकता है। सवाल है कि पर्रीकर के बेडरूम में कैसी फाइल है।

राहुल के सवाल

-मनोहर पर्रीकर के पास राफेल से जुड़े कैसे राज है
-राफेल विमान का दाम बदल कर 526 से 1600 करोड़ किया गया, सवाल यह है कि यह किसने किया
-अनुभवहीन कंपनी को कांट्रैक्‍ट क्‍यों दिया गया, अनिल अंबानी को कांट्रैक्‍ट क्‍यों दिया गया
-राफेल मुद्दे पर लोकसभा में प्रधानमंत्री ने क्‍यों नहीं दिया जवाब, रक्षा मंत्री ने क्‍यों नहीं दिया जवाब
-विमान सस्‍ता तो 126 विमान क्‍यों नहीं खरीदे
-एचएएल 70 साल से हवाई जहाज बना रही है। एचएएल को हटाने का निर्णय किसका था?