हरियाणा की हिसार कोर्ट की ओर से संत रामपाल की मुश्किलें बढ़ी।

हरियाणा की हिसार कोर्ट की ओर से संत रामपाल की मुश्किलें बढ़ी।

31
0
SHARE

हरियाणा की हिसार कोर्ट ने गुरुवार को हत्या के मामले में संत रामपाल को दोषी करार दिया है। ऐसे में रामपाल के समर्थक कोई उत्पात कर सकते हैं इस बात को ध्यान में रखते हुए जिले में सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं और धारा 144 भी लगा दी गई है।

हिसार के सतलोक आश्रम में हत्या के आरोप में जेल में बंद संत रामपाल के मामले में गुरुवार को कोर्ट का फैसला आ गया। कोर्ट ने रामपाल को हत्या के दो मामलों में दोषी करार दिया है। ऐसे में सुरक्षा को लेकर चिंतित जिला प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं।

साथ ही जिले में धारा 144 लगा दी गई है और सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। वहीं फैसले से पहले कोर्ट के तीन किलोमीटर के दायरे में सुरक्षा घेरा बना दिया गया था।

इसके भीतर किसी भी बाहरी शख्स के आने पर पाबंदी है। शहर में 48 पुलिस नाके सिर्फ रामपाल समर्थकों को शहर में घुसने से रोकने के लिए लगाए गए हैं।

माना जा रहा है कि कोर्ट की सुनवाई के समय 10 से 20 हजार रामपाल समर्थक कोर्ट परिसर, सेंट्रल जेल, लघु सचिवायल, पार्क जैसी अन्य जगहों पर इकट्ठा हो सकते हैं।

ऐसे में वे कोई उत्पात न कर सकें इसे ध्यान में रखते हुए पुलिस ने पहले से ही तैयारी की हुई है। साथ ही आरएएफ की पांच कंपनियों को हिसार बुलाया गया है।

बता दें कि साल 2014 के नवंबर में रामपाल के समर्थकों और पुलिस की टीम के बीच टकराव हुआ था जिसमें चार महिलाओं और एक बच्चे की मौत हुई थी। जिसके चलते आश्रम चलाने वाले रामपाल पर हत्या का मामला दर्ज हुआ था।

मामले में रामपाल समेत कुल 15 लोग आरोपी हैं। वहां एक महिला की मौत के अन्य मामले में रामपाल सहित 13 आरोपी हैं। 6 लोग ऐसे हैं जिन्हें दोनों केस में आरोपी पाया गया है।