क्या आपको पता है पैन कार्ड के 10 नंबर का मतलब? शायद...

क्या आपको पता है पैन कार्ड के 10 नंबर का मतलब? शायद नहीं जानते होंगे आप

18
0
SHARE

क्या आपको पता है पैन कार्ड के 10 नंबर का मतलब? शायद नहीं जानते होंगे आप

पैन कार्ड आपके फाइनांशियल रिकॉर्ड का अहम दस्तावेज होता है। जिस तरह यह अहम है उसी तरह इसका नंबर भी खास होता है। इन नंबरों और अल्फाबेट का कुछ ना कुछ मतलब होता है। चलिए आपको इसकी जानकारी देते हैं।

 Meaning of PAN card number 10 digit details maa

पैन कार्ड यानी पर्मानेंट अकाउंट नंबर अब अहम दस्तावेजों में से एक हो गया है। इनकम टैक्स भरने के साथ बैंक खातों से जुड़े कामों में इसकी जरूरत पड़ती है। साथ ही ये आपके फाइनांशियल लेनदेन के मामले में काम आता है। आपको बता दें कि पैन कार्ड 10 अल्फान्यूमैरिक नंबर होता है। इसे डिपार्टमेंट ऑफ इनकम टैक्स आवंटित करता है। क्या आपने कभी सोचा है कि इन अल्फान्यूमैरिक नंबर का मतलब क्या होता है? क्यों इन्हें अल्फान्यूमैरिक तरीके से ही लिखा जाता है। अगर आपको ये पता नहीं है तो हम इसकी सारी जानकारी देते हैं। 

पैन कार्ड के नंबरों का मतलब
आपको बता दें कि पैन कार्ड में अल्फान्यूमैरिक 10 अंक होते हैं। उसे IT डिपार्टमेंट, UTI या NSDL के जरिये जारी करता है। ये किसी मोबाइल नंबर की तरह रेंडम नहीं होता है। बल्कि इसके हर एक अल्फाबेट या न्यूमेरिक के पीछे एक इंफॉर्मेशन छुपा होता है। पैन कार्ड के 10 डिजिट में पहले 5 डिजिट अल्फाबेट होते हैं। इनके पीछे 4 न्यूमैरिक होते हैं और अंत में फिर एक अल्फाबेट होता है।

शुरुआत के 5 कैरेक्टर्स का मतलब
पैन कार्ड में शुरुआत के 5 कैरेक्टर्स में से पहले तीन कैरेक्टर्स आयकर की अल्फाबेट सीरीज को दर्शाते हैं जो कि AAA से लेकर ZZZ तक के बीच की सीरीज में आते हैं। चौथा कैरेक्टर ये दिखाता है कि आयकर विभाग की नजर में आप क्या हैं। 

हर अक्ष्र का है कुछ ना कुछ मतलब
जैसे कि इंडीविजुएल टैक्सपेयर्स के लिए आयकर विभाग चौथे कैरेक्टर के रूप में P का इस्तेमाल करता है। कंपनी के लिए C इस्तेमाल होता है। हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के लिए H का इस्तेमाल होता है। व्यक्तियों का संघ (AOP) के लिए A का इस्तेमाल होता है। बॉडी ऑफ इंडिविजुअल्स (BOI) के लिए B का इस्तेमाल होता है। सरकारी एजेंसी के लिए G का इस्तेमाल होता है। आर्टिफिशियल ज्युडिशियल पर्सन के लिए J का इस्तेमाल होता है। लोकल अथॉरिटी के लिए L का इस्तेमाल होता है। फर्म/लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनिरशिप के लिए F का इस्तेमाल होता है। ट्रस्ट के लिए T का इस्तेमाल होता है।

नाम का पहला अक्षर भी होता है शामिल
पैन कार्ड का 5वां कैरेक्टर आपके सरनेम के पहले कैरेक्टर को दर्शाता है। जैसे आपका सरनेम राजपूत है तो आपके पैन नंबर का पांचवा कैरेक्टर R होगा। वहीं नॉन-इंडीविजुएल पैन कार्ड होल्डर्स के लिए उनके पैन नंबर में पांचवा कैरेक्टर उनके नाम का पहला अक्षर होगा। अगले चार कैरेक्टर्स हमेशा न्यूमेरिक होते हैं जो पैन कार्ड की सीरीज के सिक्वेंशियल नंबर होते हैं और 0001 से लेकर 9999 तक की संख्या के बीच में होते हैं। आपके पैन नंबर का आखिरी कैरेक्टर हमेशा एक अल्फाबेट होता है।