जब ताज महल के अंदर पढ़ी दीपक शर्मा ने शिव चालीसा तोह...

जब ताज महल के अंदर पढ़ी दीपक शर्मा ने शिव चालीसा तोह देखिये कैसे मचा हड़कंप

876
0
SHARE

ताजमहल के अंदर पढ़ा शिव चालीसा, कहा-ये तेजो महालय है

ताजमहल पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. सोमवार को कुछ लोगों ने ताजमहल के अंदर शिव चालीसा पढ़कर ताजमहल या तेजो महालय विवाद को और हवा दे दी.

राष्ट्रवादी स्वाभिमान दल के कार्यकर्ता ताजमहल के अंदर घुस गए. इसके बाद उन्होंने शिव चालीसा पढ़ना शुरू कर दिया. जैसे ही उन्होंने शिव चालीसा पढ़ना शुरू किया वैसे ही सुरक्षा एजेंसियों में हडकंप मच गया. सीआईएसएफ के जवानों और दल के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर कहासुनी हुई.

काफी मशक्कत के बाद कार्यकर्ता ताजमहल के अंदर से बाहर निकाले गए. राष्ट्रवादी स्वाभिमान दल के नेता दीपक शर्मा का कहना है कि वो ताजमहल को तेजो महालय मंदिर मानते हैं. आज सोमवार को व्रत रखकर शिव चालीसा पढ़ने आए थे.

मालूम हो कि इससे पहले विनय कटियार भी ताज पर विवादित बयान दे चुके हैं. उन्होंने दावा किया है कि शाहजहां ने इस स्मारक को बनाने के लिए हिंदू मंदिर को ध्वस्त किया. उन्होंने कहा कि ताजमहल एक हिंदू मंदिर हैं, जो तेजोमहल के नाम से जाना जाता है.

उनका दावा है कि यहां एक शिव मंदिर हुआ करता था, जिसे तोड़कर शाहजहां ने ताजमहल का निर्माण कराया. हालांकि विनय कटियार ने साफ किया कि यह सच है कि वहां एक हिंदू मंदिर हुआ करता था लेकिन वह ताजमहल को तोड़ने को नहीं कह रहे हैं.

इससे पहले बीजेपी विधायक संगीत सोम ने एक कार्यक्रम में कहा था कि “ताजमहल भारतीय संस्कृति पर धब्बा है. जबकि हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज कह चुके हैं कि ‘ताजमहल एक खूबसूरत कब्रिस्तान है.’

भारत स्वाभिमान दल देश के प्रत्येक आयु के विचारशील, प्रगतिशील और राष्ट्रभक्तोंका इस महान कार्य में सहयोग के लिए आवाहन करता है।

भारत स्वाभिमान दल के सदस्य बनकर सम्पूर्ण व्यवस्था परिवर्तन के इस जनआंदोलन मेंअपनी सक्रीय भूमिका का निर्वह्न करें।