रोहिंग्या मुस्लिमों पर योग गुरु बाबा रामदेव का बड़ा बयान

रोहिंग्या मुस्लिमों पर योग गुरु बाबा रामदेव का बड़ा बयान

60
0
SHARE

रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर देश में बहस जारी है। असम में एनआरसी का दूसरा ड्राफ्ट जारी होने के बाद से ही बांग्लादेशियों और रोहिंग्या को लेकर बहस छिड़ी हुई है। इसको लेकर पहले ही विपक्षी दलों और सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। वहीं, रोहिंग्या के मामले पर अब योगगुरू बाबा रामदेव का भी बड़ा बयान आया है। उन्होंने हरियाणा के रोहतक में कहा कि देश में 3 से 4 करोड़ लोग अवैध तरीके से रह रहे हैं और रोहिंग्या भी अब आ गए हैं।

बाबा रामदेव ने कहा कि इन सभी को अलग तरह से ट्रेनिंग दी गई है, अगर ये लोग भारत में रहे तो 10 कश्मीर और तैयार हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि चाहें ये घुसपैठिए बांग्लादेशी हों, पाकिस्तानी या फिर रोहिंग्या, सभी को देश से बाहर करना चाहिए। वहीं, रामदेव ने असम में एनआरसी को बाहरी लोगों की पहचान करने की दिशा में अहम कदम करार दिया। रामदेव ने कहा कि घुसपैठियों के कारण देश की सुरक्षा को खतरा पैदा हुआ है।

रामदेव ने कहा कि कश्मीर की समस्या से देश पहले से ही जूझ रहा है और ऊपर से इन रोहिंग्या को अगर बसने दिया गया तो 10 कश्मीर तैयार हो जाएंगे। बाबा रामदेव ने आरक्षण के मुद्दे पर भी बात की और कहा कि जो दलित और पिछड़े लोग समर्थ हैं उनको आरक्षण का लाभ नहीं देना चाहिए। इस व्यवस्था में बदलाव होना चाहिए।

बता दें कि असम के एनआरसी ड्राफ्ट में 40 लाख लोगों को जगह नहीं मिली है जिसको लेकर काफी विवाद पैदा हो गया। इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने भी निर्देश दिया कि इन सभी लोगों को अपनी नागरिकता साबित करने का मौका दिया जाना चाहिए। जबकि सरकार की तरफ से भी कहा गया कि ये महज एक ड्राफ्ट है और इसको लेकर राजनीतिक दल भ्रम की स्थिति पैदा कर रहे हैं।

असम के राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) ड्राफ्ट पर विवाद थमता नहीं दिख रहा। योग गुरु बाबा रामदेव ने एनआरसी को देश के हित में और अवैध प्रवासियों को भारत के लिए खतरा बताया है। रामदेव ने कहा, ‘3 से 4 करोड़ लोग भारत में अवैध तरीके से रहते हैं। इसमें रोहिंग्या ऊपर से और आ गए हैं, जिन्हें गलत तरीके से ट्रेनिंग दी गई है। वो (रोहिंग्या) यहां बस गए, तो यहां 10 कश्मीर और तैयार हो जाएंगे।’

3-4 crore log Bharat mein avaidh tareeke se rehte hain, ismein Rohingya upar se aur aa gaye, jinko galat tareeke se training di gai hai, vo yahan par bas gaye toh yahan 10 Kashmir aur tayar ho jayenge: Baba Ramdev on #NRC(10।08।18) pic।twitter।com/YllAm1qCOn
— ANI (@ANI) August 11, 2018

रामदेव ने शुक्रवार को हरियाणा के रोहतक में दयानंद मठ में यह बातें कही। रोहिंग्या शरणार्थियों को भारत में शरण देने पर रामदेव ने चिंता जाहिर करते हुए कहा, ‘कश्मीर की समस्या का पहले ही समाधान नहीं हो पा रहा है। अब जिस तरह से लोग अवैध रूप से भारत में घुसते जा रहे हैं, उससे 10 कश्मीर और तैयार होने जा रहे हैं।’

रामदेव ने कहा, ‘चाहे वो बांग्लादेशी, पाकिस्तानी, रोहिंग्या या यहां तक कि अमेरिकी ही क्यों न हों, अवैध प्रवासियों ने हमेशा से भारत की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा पैदा किया है। इस लिहाज से उन सभी को निर्वासित (निकाला) किया जाना चाहिए।’

उन्होंने कहा कि हम एक ही कश्मीर को संभालने में सक्षम नहीं हैं और अगर रोहिंग्याओं को यहां रहने की इजाजत दे दी गई, तो सोचिए क्या हालात हो जाएंगे।